अयोध्या फैसला: BJP नेता का ऐलान, अनुमति मिले तो मस्जिद के लिए मैं दान कर दूंगा अपनी पैतृक जमीन

लखनऊ( Uttar Pradesh ). देश के सबसे बड़े मुकदमे अयोध्या मामले का फैसला सुप्रीम कोर्ट ने सुना दिया है। कोर्ट ने विवादित जमीन रामलला विराजमान को देते हुए मस्जिद बनाने के लिए अयोध्या में 5 एकड़ जमीन देने का आदेश दिया है। सर्वोच्च न्यायालय के इस फैसले के बाद तमाम लोगों के कमेंट आने शुरू हो गए हैं। BJP के वरिष्ठ नेता ने ऐलान किया है कि अगर कि अगर सरकार परमीशन दे तो वह प्रतापगढ़ स्थित अपनी पैतृक जमीन मस्जिद बनाने के लिए सुन्नी वक्फ बोर्ड को दान कर देंगे।

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या मामले की रोज सुनवाई कर मामले को 40 दिन में निबटाने का फैसला लिया था। जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट में दोनों पक्षों के वकीलों ने लगातार 40 दिन तक अपनी दलीलें पेश किया। दोनों पक्षों के वकीलों को सुनने व तमाम साक्ष्यों पर गौर करने के बाद कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रखा था। जिस पर आज सुबह साढ़े दस बजे देश के इस सबसे बड़े मुकदमे में फैसला सुनाया गया। इस मामले को लेकर BJP नेता व पूर्व विधायक बृजेश मिश्र सौरभ की एक पोस्ट चर्चा का विषय बन गई है। BJP नेता ने कहा है कि अगर यूपी सरकार परमीशन दे तो वह प्रतापगढ़ में स्थित अपनी पैतृक जमीन मस्जिद के लिए दान करने को तैयार हैं।

जाने कौन है पूर्व विधायक बृजेश मिश्र 
लखनऊ के निशातगंज में रहने वाले EX MLA बृजेश मिश्र सौरभ BJP के नेता हैं। उनका होम डिस्ट्रिक्ट प्रतापगढ़ है। 2007 में वह प्रतापगढ़ की गड़वारा विधानसभा सीट से विधायक रहे थे। पिता स्व. हीरालाल मिश्र स्वतंत्रता संग्राम सेनानी थे। वह बाल स्वयं सेवक रहे हैं। 2017 में योगी सरकार बनने के बाद उन्हें बीजेपी पंचायत प्रकोष्ठ का प्रदेश संयोजक बनाया गया था।

मस्जिद के लिए दान करूंगा अपनी जमीन 
BJP के पंचायत प्रकोष्ठ के पूर्व प्रदेश संयोजक व पूर्व विधायक बृजेश मिश्र “सौरभ”ने ऐलान किया है कि वह प्रतापगढ़ में स्थित अपनी पैतृक जमीन में से मस्जिद के लिए दान देने को तैयार हैं। इसके लिए उन्होंने कहा है कि अगर यूपी सरकार परमीशन दे तो वह प्रतापगढ़ में भव्य मस्जिद के लिए जमीन देने को तैयार हैं।

सोशल मीडिया पर डाली है पोस्ट 
BJP नेता द्वारा सोशल मीडिया पर डाली गई ये पोस्ट खूब वायरल हो रही है। इस पर उनके समर्थक व सोशल मीडिया पर उनके फालोवर कमेंट्स कर रहे हैं।

READ SOURCE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *