रिसर्च में हुआ बड़ा खुलासा, मास्क और बैंकनोट पर इतने दिनों तक जिंदा रह सकता हैं कोरोना

कोरोना वायरस जैसी घातक बीमारी को लेकर हाल ही में एक बड़ा खुलासा हुआ है। जिसे जानकार आप भी हैरान रह जाओगे। कोरोना वायरस संक्रमित मास्क, बैंक नोट, स्टील के बर्तन और प्लास्टिक की चीजों पर 4 दिन से 1 हफ्ते तक रह सकता है।

कोरोना वायरस जैसी घातक बीमारी को लेकर हाल ही में एक बड़ा खुलासा हुआ है। जिसे जानकार आप भी हैरान रह जाओगे। कोरोना वायरस संक्रमित मास्क, बैंक नोट, स्टील के बर्तन और प्लास्टिक की चीजों पर 4 दिन से 1 हफ्ते तक रह सकता है। एक अध्ययन में यह जानकारी सामने आई है।

Third Party Image Reference

हांगकांग यूनिवर्सिटी के अनुसंधानकर्ताओं का कहना है यह वायरस घर में इस्तेमाल होने वाले कीटाणुनाशकों, ब्लीच या साबुन और पानी से बार-बार हाथ धोने से मर जाएगा। साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट ने सोमवार को बताया कि अध्ययन में पाया गया कि कोरोना वायरस स्टेनलेस स्टील और प्लास्टिक की सतहों पर चार दिन तक चिपका रह सकता है और चेहरे पर लगाए जाने वाले मास्क की बाहरी सतह पर हफ्तों तक जिंदा रह सकता है।

हेल्थ विभाग के लिओ लिटमैन और मलिक पेरिस के अनुसार, अध्ययन में यह भी जानने की कोशिश की गई कि कोरोना वायरस किस तरह के तापमान में किन-किन चीजों पर कितनी देर जिंदा रह सकता है। वैज्ञानिकों ने पाया है कि कागज जैसे अखबार और टिशू पेपर पर तीन घंटे में ही यह वायरस मर जाता है। हालांकि, यह इस पर भी निर्भर करता है कि बाहर का तापमान क्या है। इसी तरह लकड़ी और कपड़ों पर यह चंद सेकंड में खत्म हो जाता है। ग्लास और बैंक नोट पर चार दिन वायरस जिंदा पाया गया है।

अध्ययन में सलाह दी गई है कि जहां तक संभव हो, लोग सर्जिकल मास्क पहनें और किसी दूसरे मास्क न छूए। यूं तो डॉक्टर सभी तरह की सावधानियां बरतते हैं, लेकिन रिपोर्ट में उनके लिए लिखा गया है कि वे बार-बार अपनी आंखों को न छूएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *